You are here: India / world Countries of the World

Australia

Australia

Geography:-The continent of Australia, with the island state of Tasmania, is approximately equal in area to the United States (excluding Alaska and Hawaii). Mountain ranges run from north to south along the east coast, reaching their highest point in Mount Kosciusko (7,308 ft; 2,228 m). The western half of the continent is occupied by a desert plateau that rises into barren, rolling hills near the west coast. The Great Barrier Reef, extending about 1,245 mi (2,000 km), lies along the northeast coast. The island of Tasmania (26,178 sq mi; 67,800 sq km) is off the southeast coast.

Government:- Democracy. Symbolic executive power is vested in the British monarch, who is represented throughout Australia by the governor-general.

History:- The first inhabitants of Australia were the Aborigines, who migrated there at least 40,000 years ago from Southeast Asia. There may have been between a half million to a full million Aborigines at the time of European settlement; today about 350,000 live in Australia. Dutch, Portuguese, and Spanish ships sighted Australia in the 17th century; the Dutch landed at the Gulf of Carpentaria in 1606. In 1616 the territory became known as New Holland. The British arrived in 1688, but it was not until Captain James Cook's voyage in 1770 that Great Britain claimed possession of the vast island, calling it New South Wales. A British penal colony was set up at Port Jackson (what is now Sydney) in 1788, and about 161,000 transported English convicts were settled there until the system was suspended in 1839. Free settlers and former prisoners established six colonies: New South Wales (1786), Tasmania (then Van Diemen's Land) (1825), Western Australia (1829), South Australia (1834), Victoria (1851), and Queensland (1859). Various gold rushes attracted settlers, as did the mining of other minerals. Sheep farming and grain soon grew into important economic enterprises. The six colonies became states and in 1901 federated into the Commonwealth of Australia with a constitution that incorporated British parliamentary and U.S. federal traditions. Australia became known for its liberal legislation: free compulsory education, protected trade unionism with industrial conciliation and arbitration, the secret ballot, women's suffrage, maternity allowances, and sickness and old-age pensions. 

Languages: English 76.8%, Mandarin 1.6%, Italian 1.4%, Arabic 1.3%, Greek 1.2%, Cantonese 1.2%, Vietnamese 1.1%, other 10.4%, unspecified 5% (2011 est.) Ethnicity/race: Caucasian 92%, Asian 7%, aboriginal and other 1% Religions: Protestant 28.8% (Anglican 17.1%, Uniting Church 5.0%, Presbyterian and Reformed 2.8%, Baptist, 1.6%, Lutheran 1.2%, Pentecostal 1.1%), Catholic 25.3%, Eastern Orthodox 2.6%, other Christian 4.5%, Buddhist 2.5%, Muslim 2.2%, Hindu 1.3%, other 8.4%, unspecified 2.2%, none 22.3%(2006 est.) National Holiday: Australia Day, January 26 Literacy rate: 99% (2011 est.) Economic summary: GDP/PPP $998.3 billion (2011 est.); per capita $43,000. Real growth rate: 2.5%. Inflation:2.4%. Unemployment: 5.7%. Arable land: 6.16%. Agriculture: wheat, barley, sugarcane, fruits; cattle, sheep, poultry. Labor force: 12.44 million; agriculture 3.6%, industry 21.1%, services 70.4% (2011 est.). Industries:mining, industrial and transportation equipment, food processing, chemicals, steel. Natural resources: bauxite, coal, iron ore, copper, tin, gold, silver, uranium, nickel, tungsten, mineral sands, lead, zinc, diamonds, natural gas, petroleum. Exports: $251.7 billion (2013 est.): coal, gold, meat, wool, alumina, iron ore, wheat, machinery and transport equipment. Imports: $245.8 billion (2013 est.): machinery and transport equipment, computers and office machines, telecommunication equipment and parts; crude oil and petroleum products. Major trading partners:China, US, Japan, Thailand, Singapore, South Korea, India, Germany (2012). Member of Commonwealth of Nations Communications: Telephones: main lines in use: 10.47 million (2012); mobile cellular: 24.4 million (2011). Broadcast media: the Australian Broadcasting Corporation (ABC) runs multiple national and local radio networks and TV stations, as well as Australia Network, a TV service that broadcasts throughout the Asia-Pacific region and is the main public broadcaster; Special Broadcasting Service (SBS), a second large public broadcaster, operates radio and TV networks broadcasting in multiple languages; several large national commercial TV networks, a large number of local commercial TV stations, and hundreds of commercial radio stations are accessible; cable and satellite systems are available (2008). Internet hosts: 17.081 million (2012). Internet users: 15.81 million (2011). Transportation: Railways: total: 38,445 km. Highways: total: 823,217 km (2011). Waterways: 2,000 km (mainly used for recreation on Murray and Murray-Darling river systems) (2006). Ports and terminals: Brisbane, Cairns, Dampier, Darwin, Fremantle, Gladstone, Geelong, Hay Point, Hobart, Jervis Bay, Melbourne, Newcastle, Port Adelaide, Port Dalrymple, Port Hedland, Port Kembla, Port Lincoln, Port Walcott, Sydney. Airports: 480 (2013). International disputes: In 2007, Australia and Timor-Leste signed agreed to a 50-year development zone and revenue sharing arrangement and deferred a maritime boundary; Australia asserts land and maritime claims to Antarctica; Australia's 2004 submission to Commission on the Limits of the Continental Shelf (CLCS) extends its continental margins over 3.37 million square kilometers, expanding its seabed roughly 30 percent beyond its claimed exclusive economic zone; all borders between Indonesia and Australia have been agreed upon bilaterally, but a 1997 treaty that would settle the last of their maritime and Exclusive Economic Zone (EEZ) boundary has yet to be ratified by Indonesia's legislature; Indonesian groups challenge Australia's claim to Ashmore Reef; Australia has closed parts of the Ashmore and Cartier reserve to Indonesian traditional fishing

राजधानी   कैनबरा

ऑस्ट्रेलिया, सरकारी तौर पर ऑस्ट्रेलियाई राष्ट्रमंडल दक्षिणी गोलार्द्ध के महाद्वीप के अर्न्तगत एक देश है जो दुनिया का सबसे छोटा महाद्वीप भी है और दुनिया का सबसे बड़ा द्वीप भी,जिसमे तस्मानियाऔर कई अन्य द्वीप हिंद और प्रशांत महासागर में है।ऑस्ट्रेलिया एकमात्र ऐसी जगह है जिसे एक ही साथ महाद्वीप, एक राष्ट्र और एक द्वीप माना जाता है। पड़ोसी देश उत्तर में इंडोनेशियापूर्वी तिमोर औरपापुआ न्यू गिनी, उत्तर पूर्व में सोलोमन द्वीपवानुअतु और न्यू कैलेडोनिया औरदक्षिणपूर्व में न्यूजीलैंड है।18वी सदी के आदिकाल में जब यूरोपियन अवस्थापन प्रारंभ हुआ था उसके भी लगभग 40 हज़ार वर्ष पहले, ऑस्ट्रेलियाई महाद्वीप और तस्मानिया की खोज अलग-अलग देशो के करीब 250 स्वदेशी ऑस्ट्रेलियाईयो ने की थी।तत्कालिक उत्तर से मछुआरो के छिटपुट भ्रमण और होलैंडवासियो (Dutch) द्वारा 1606,में यूरोप की खोज के बाद,1770 में ऑस्ट्रेलिया के अर्द्वपूर्वी भाग पर अंग्रेजों (British) का कब्ज़ा हो गया और 26 जनवरी 1788 में इसका निपटारा "देश निकला" दण्डस्वरुप बने न्यू साउथ वेल्स नगर के रूप में हुआ। इन वर्षों में जनसंख्या में तीव्र गति से वृद्धि हुई और महाद्वीप का पता चला,19वी सदी के दौरान दूसरे पांच बड़े स्वयं-शासित शीर्ष नगर की स्थापना की गई।1 जनवरी 1901 को, छ: नगर महासंघ हो गए और ऑस्ट्रेलियाई राष्ट्रमंडल का गठन हुआ। महासंघ के समय से लेकर ऑस्ट्रेलिया ने एक स्थायी उदार प्रजातांत्रिक राजनैतिक व्यवस्था का निर्वहन किया औरप्रभुता संपन्न राष्ट्र बना रहा.जनसंख्या 21.7मिलियन (दस लाख) से थोडा ही उपर है, साथ ही लगभग 60% जनसंख्या मुख्य राज्यों सिडनी,मेलबर्न,ब्रिस्बेन,पर्थ और एडिलेड में केन्द्रित है। राष्ट्र की राजधानीकेनबर्रा है जो ऑस्ट्रेलियाई प्रधान प्रदेश (ACT) में अवस्थित है।प्रौद्योगिक रूप से उन्नत और औद्योगिक ऑस्ट्रेलिया एक समृद्ध बहुसांस्कृतिक राष्ट्र है और इसका कई राष्ट्रों की तुलना में इन क्षत्रों में प्रदर्शन उत्कृष्ट रहा है जैसे स्वास्थ्य, आयु संभाव्यता, जीवन-स्तर, मानव विकास, जन शिक्षा, आर्थिक स्वतंत्रता और मूलभूत अधिकारों की रक्षा और राजनैतिक अधिकार.ऑस्ट्रेलियाई शहरों को जीवन कुशलता, सांस्कृतिक प्रस्तावों और जीवन-स्तर के क्षेत्र में दुनिया में उच्च स्थान दिया जाता है। यह कई संगठनों जैसे संयुक्त राष्ट्रजी-20मुख्य अर्थव्यवस्थाएँ, राष्ट्र मंडल देशोंANZUSOECD और विश्व व्यापार संगठन (WTO) का सदस्य है।

इतिहास

ऑस्ट्रेलिया के मानव निवास-स्थान की शुरुवात आज से 42000 और 48000 वर्षो पहले की अनुमानित की गयी है। ये पहले ऑस्ट्रेलियाई आज के आधुनिक स्वदेशी ऑस्ट्रैलियाईयो के पूर्वज रहे होंगे, वे भू-सेतु के रास्ते आये होंगे और छोटी समुद्री यात्रा वहां से कियें होंगे जो आज दक्षिणी-पूर्वी एशिया है। इनमें से अधिकांश लोग शिकारी-संग्राहक और साथ में मिश्रित मौखिक संस्कृति और ड्रीमटाइम में विश्वास और भूमि की इज्ज़त करने पर आधारित आध्यात्मिक गुण वाले थे। द टोर्रेस जलसंयोगी द्वीपवासीएथ्निकल्लीमेलानेसियन, वास्तविक में शिकारी और बागवानी करने वाले थे। उनकी सांस्कृतिक परंपरा हमेशा से महाद्वीप के आदि निवासियों से अलग रही है।ऑस्ट्रेलियन महाद्वीप का पहला अभिलिखित यूरोपियन अवलोकन डच नाविक विलियम जनस्जून द्वारा किया गया, उन्होंने 1606 में केप यार्क पेनिन्सुला का अवलोकन किया था। 17वी सदी के दौरान डच ने सम्पूर्ण पश्चिमी और उत्तरी तटरेखा को अभिलिखित किया जिसे उन्होंने न्यू-हॉलैंड कहा, लेकिन उन्होंने इसके अवस्थापन की कोई कोशिश नहीं की.1770 में, जेम्स कुक ने जहाज़ लेकर पूरा भ्रमण किया और ऑस्ट्रेलिया के पूर्वी तट का मानचित्र खींचा, जिसे उन्होंने नाम दिया न्यू-साउथ वेल्स और ग्रेट ब्रिटेन के लिए दावा किया।कूक की खोजों ने नए दंड सम्बन्धी नगर की स्थापना का रास्ता तैयार किया। 26 जनवरी 1788 को कैप्टेन आर्थर फिलिप द्वारा, न्यू साउथ वेल्स का शीर्ष ब्रिटिश नगर पोर्ट जैक्सन में अवस्थापन शुरू किया गया। यह दिन आगे चल कर ऑस्ट्रेलिया का राष्ट्रीय दिवस, 'ऑस्ट्रेलिया दिवस' बना. वेन डीमेंस लैंड जिसे अब तस्मानिया नाम से जाना जाता है, की स्थापना 1803 में की गयी और 1825 में यह एक अलग नगर हो गया। ग्रेटब्रिटेन ने 1829 में औपचारिक रूप से ऑस्ट्रेलिया के पश्चिमी हिस्से पर अपना दावा किया। न्यू साउथ वेल्स के हिस्से से पृथक करके अलग नगरो का निर्माण किया गया, 1836 में दक्षिणी ऑस्ट्रेलिया, 1851 में विक्टोरिया और 1859 में क्वींसलैंड.उत्तरी सीमावर्ती क्षेत्र की स्थापना 1911 में हुई थी जब इसे दक्षिणी ऑस्ट्रेलिया से अलग किया गया। दक्षिणी ऑस्ट्रेलिया की स्थापना एक स्वतंत्र प्रदेश के रूप में की गयी, क्योकि यह कभी भी दंड संबंधी नगर नहीं रहा.विक्टोरिया और पश्चमी ऑस्ट्रेलिया की स्थापना भी स्वतंत्र रूप में की गई परन्तु बाद में ले गए दोषी कारागारवासियों को इसने स्वीकार कर लिया।दोषी कैदियों को न्यू साउथ वेल्स ले जाना नगरवासियों द्वारा चलाये गए एक अभियान के बाद 1848 में बंद कर दिया गया।350,000 की अनुमानित स्वदेशी ऑस्ट्रेलियाई आबादी जो यूरोपियन अवस्थापन के समय थी,उसमे मुख्यत: स्पर्शसंचारी बिमारियों के कारण 150 वर्षो तक चिन्ताजनक तरीके से कमी आई."चुराई गई पीढ़ी"(आदिवासी बच्चों को उनके परिवारों से हटाना), जिस पर हेनरी रेनॉल्ड्स जैसे इतिहासकार दलील देते है की इसे जाति संहार का कारण मानना चाहिए,जिसने शायद स्वदेशी जनसंख्या को कम करने में भी अपना योगदान दिया.आदिकालीन इतिहास के ऐसे भाषांतरण पर कुछ रूढ़ीवादी विवरणकारो द्वारा विवाद किया गया, जैसे भूतपूर्व प्रधानमंत्री हॉवर्ड, जैसे की राजनैतिक या वैचारिक कारणों के लिए अत्युक्ति या कल्पित हुई है। इतिहासकार किथ विंडशटल तर्क देते है की आदिवासी लोगो के आचरण का प्रबल ऐतिहासिक भाषांतरण श्वेतो के सीमा अवस्थापन में ऑस्ट्रेलिया की कल्पना हुई .वह दावा करते हैं कि यह कार्य राजनैतिक रूप प्रेरित विद्वानों की एक पीढ़ी के कार्यों का नतीज़ा था। उन्होंने आरोप लगाये हैं कि यह कार्य कमज़ोर ऐतिहासिक पद्धति अपनाकर तथ्यों के अभाव में कहानियां गढ़कर, आकृतियां बनाकर, तथ्यों को छुपाकर गलत सन्दर्भ स्रोतों के जरिये किया गया है, जिससे पाठक ठगे गये हैं।इस वाद-विवाद को ऑस्ट्रेलिया के अन्दर इतिहास युद्धों के रूप में जाना जाता है।1967 के रिफ़रेंडम का पालन करते हुए संघीय सरकार ने नीतियों को कार्यान्वित करने के लिए शक्ति प्राप्त किया और आदिवासियों के लिए कानून बनाया.पारंपरिक भू-स्वामित्व--देशी शीर्षक 1992 तक मानी नहीं गयी, जबतक उच्च न्यायालयने यूरोपियन अधिग्रहण के समय क्वींसलैंड के विरुद्ध मेबो के मामले में ऑस्ट्रेलिया के मत को टेर्रा न्युलिय्स (अक्षरश "स्वामित्त्व मुक्त भूमि"प्रभावता "खाली जमीन"या भूमि) कह कर उलट न दिया.1850 के करीब ऑस्ट्रेलिया में एक स्वर्ण दौड़ शुरू हुई और यूरेका कठघरे के विद्रोहीयों द्वारा, 1854 में, लाइसेंस शुल्क के खिलाफ सविनय अवज्ञा इसकी शुरूआती अभिव्यक्ति थी। 1855 और 1890 के बीच छ: नगरो ने स्वतः एक दायित्वपूर्ण सरकार प्राप्त किया, अधिकतर मामलो की वे खुद व्यवस्था करते थे और बाकी ब्रिटिश साम्राज्य के हवाले था।landan का नगरीय कार्यालय ने कुछ मामले, विशेष तौर पर विदेशी मामले, रक्षा और अंतर्राष्ट्रीय पोत-परिवहन को अपने पास रखा.1 जनवरी 1901 को, नगरो का महासंघ, दशको की योजनाओं, परामर्श और मतों के बाद प्राप्त हुआ। ऑस्ट्रेलियाई राष्ट्रमंडल पैदा हुआ और यह 1907 में ब्रिटिश हुकूमत का रियासत बना.संघीय प्रमुख राज्यक्षेत्र (बाद में जिसका नाम ऑस्ट्रेलियाई प्रमुख राज्यक्षेत्र पड़ा) 1911 में न्यू साउथ वेल्स के कुछ हिस्सों से बना, जिसका मकसद प्रस्तावित नई संघीय राजधानी के लिए जगह प्रदान करना था। (1901 से 1927 तक मेलबर्न, सरकार का अस्थायी सीट था जबकि केनबर्रा निर्माणाधीन था।) उत्तरी क्षेत्र को दक्षिणी ऑस्ट्रेलियाई सरकार से 1911 में राष्ट्रमंडल स्थानांतरित किया गया।1914 में ऑस्ट्रेलिया, पहला विश्व युद्घ लड़ने में, ब्रिटेन के साथ हो गया जिसे साथ में निर्गामी लिबरल पार्टी और आवक लेबर पार्टी दोनों का समर्थन प्राप्त था।ऑस्ट्रेलियाईयो ने पश्चिमी प्रान्त में हुए कुछ प्रमुख लड़ाइयो में हिस्सा लिया।कई ऑस्ट्रेलियाईयो का मानना है कि गलीपोली में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के सैन्य दलों की हार, राष्ट्र के जन्म का कारण बनी, जो इसका पहला बड़ा सैन्य अभियान था।कोकोडा मार्ग अभियान को कईयों द्वारा द्वितीय विश्व युद्घ के दौरान की एक अनुरूप राष्ट्र-परिभाषित घटना माना गया है।ब्रिटेन के 1931 के वेस्टमिन्स्टर की प्रतिमा ने ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन के बीच औपचारिक रूप से अधिकांशत संवैधानिक कड़ियों को ख़त्म कर दिया, ऑस्ट्रेलिया ने इसे 1942 में स्वीकार किया, लेकिन इसे द्वितीय विश्व युद्घ के शुरूआती समय का कर दिया ताकि ऑस्ट्रेलियाई संसद द्वारा युद्घ के दौरान पारित इसकी कानूनी वैधता की पुष्टि हो जाए.ब्रिटेन के 1942 में एशिया में हार के सदमें और जापानी आक्रमणकारियों की धमकी ने ऑस्ट्रेलिया को संयुक्त राज्य का एक सहयोगी और अपना रक्षक बना दिया.ANZUS संधि के तहत,1951 से, ऑस्ट्रेलिया अमेरिका का एक औपचारिक सैन्य सहयोगी है। द्वितीय विश्व युद्घ के बाद,1970 के दशक और ऑस्ट्रेलिया की श्वेत नीति के अंत से, ऑस्ट्रेलिया ने यूरोप सेअप्रवास को बढ़ावा दिया, एशिया और दुसरे जगहों से भी अप्रवास को बढ़ावा दिया गया। परिणामस्वरूप, ऑस्ट्रेलिया की जनसांख्यिकी, संस्कृति और स्वयं की छवि रूपांतरित हो गयी। ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन के बीच अंतिम संवैधानिक संधि को 1986 ऑस्ट्रेलिया कानून के पारित होने के बाद अलग कर दिया गया और ऑस्ट्रेलिया राज्य-सरकार में ब्रिटिश भूमिका और UK गुप्त परिषद् को हुए न्यायिक निवेदन को ख़त्म कर दिया गया।1999 के जनमत संग्रह पर,54% ऑस्ट्रेलियाई मतदाताओं ने गणतंत्र बनने और राष्ट्रपति को सांसदों के दो तिहाई मतों से नियुक्त करने के प्रस्ताव को खारिज कर दिया.विटलम सरकार के चनाव के बाद 1972 में, दुसरे प्रशांतीय किनारों के राष्ट्रों तक सम्बन्ध विस्तार पर ध्यान केन्द्रित किया गया, जबकि ऑस्ट्रेलिया के पारंपरिक सहयोगी और व्यापारिक सहयोगियो के साथ संबंधो को मजबूत रखने का प्रयास भी जारी रहा.

भूगोल

ऑस्ट्रेलिया का भूक्षेत्र76,17,930 वर्ग किलोमीटर (29,41,300 वर्ग मील) हिन्द-ऑस्ट्रेलियाई तख़्ते पर है। हिंद और प्रशांत महासागर से घिरा हुआ है, ऑस्ट्रेलिया एशिया से अराफुरा और तिमुर समुद्रों के कारण विभाजित है। ऑस्ट्रेलिया की तट रेखा34,218 किलोमीटर (21,262 मील) है (सभी अपतट द्वीपों को छोड़कर)और 81,48,250 वर्ग किलोमीटर (31,46,060 वर्ग मील) के विस्तृत विशेष आर्धिक क्षेत्रपर अधिकार है। इस विशेष आर्थिक क्षेत्र में ऑस्ट्रेलियाई दक्षिण-ध्रुवीय प्रदेश सम्मिलित नहीं है।विशाल अवरोधक चट्टान, दुनिया का सबसे बड़ा मूंगा- चट्टान,उत्तरी पूर्वी तट से बहुत कम दुरी में स्थित है और 2,000 किलोमीटर (1,240 मील) से ज्यादा तक फैला हुआ है।माउंट अगस्टस को दुनिया का सबसे बड़ा पत्थर का खम्भा, माना जाता है,जो पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया में स्थित है।2,228 मीटर (7,310 फ़ुट) पर स्थित ग्रेट डिवाइडिंग रेंज पर माउंट कोसिक्जो ऑस्ट्रेलियाई महाद्वीप का सबसे बड़ा चट्टान है; हलाकि हर्ड द्वीप के सुदूर ऑस्ट्रेलियन प्रदेश का मासन पीक 2,745 मीटर (9,006 फ़ुट) लम्बा है।दूर तक का ऑस्ट्रेलिया का बड़ा भाग मरुस्थल है या अर्धशुष्क भूमि है जिसे सामन्यता पिछड़ा क्षेत्र कहा जाता है। ऑस्ट्रेलिया एक समतल महाद्वीप है, जिसकी मिट्टी सबसे पुरानी और कम उर्वरक है और सबसे सूखा आवासीय महाद्वीप है। सिर्फ महाद्वीप के दक्षिणी पूर्वी और दक्षिणी पश्चिमी किनारे की जलवायु समशीतोष्णहै।जनसँख्या का घनत्व 2.8 निवासी प्रति स्क्वायर किलोमीटर है, जो दुनिया के सबसे निचलो में से एक है, हालाँकि जनसँख्या का एक बड़ा भाग दक्षिणी-पूर्वी तट रेख के समशीतोष्ण हिस्से में रहती है। उष्णदेशीय जलवायु के साथ देश के उत्तरी भाग के भू-प्रदेश में वर्षा प्रचुरवनजंगलीभूमिघासभूमिवायुशिफ, दलदल और मरुस्थल सम्मिलित है। महत्वपूर्णता से जलवायु महासागरीय बहावो से प्रभावित होती है, जिसमे भारतीय महासागर द्रिधुव और अल नीनो दक्षिणी दोलन, जो सामयिक सूखे के साथ सहसम्बंधित है और मौसमी उष्णदेशीय निम्न चाप व्यवस्था जो उत्तरी ऑस्ट्रेलिया में चक्रवात का निर्माण करती है।

 

Advertisements


Poll

सरकारी स्कूलों में गिरती छात्र संख्या के लिए कौन जिम्मेदार है ?

  • सरकार
  • शिक्षक
  • अभिभावक
  • छात्र
  • सरकार/शिक्षक/अभिभावक