रघुवर दास -जन्म: (3 मई, 1955)

May 03, 2017

घुवर दास (जन्म- 3 मई, 1955, जमशेदपुर, झारखंड) भारतीय राजनीतिज्ञ तथा झारखण्ड के वर्तमान मुख्यमंत्री हैं। उन्होंने 2014 के चुनावों में 'जमशेदपुर पूर्व' सीट से भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ा और भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस के उम्मीदवार आनन्द बिहारी दुबे को 70157 वोटों के अंतर से हराकर झारखंड के छठवें मुख्यमंत्री नियुक्त बने। वे झारखंड के पहले ग़ैर आदिवासी मुख्यमंत्री हैं। इससे पूर्ण वह प्रदेश के उपमुख्यमंत्री भी रह चुके हैं।


परिचय-
रघुवर दास का जन्म 3 मई, 1955 को झारखंड के जमशेदपुर में हुआ था। उनके पिता चवन राम एवं माता सोनवत्ती थी। रघुवर दास ने भालूबासा हरिजन हाई स्कूल से मैट्रिक और जमशेदपुर को-ऑपरेटिव कॉलेज से बीएससी की डिगरी ग्रहण की। इसके साथ ही उन्होंने एल.एल.बी भी किया। रघुवर दास का विवाह श्रीमती रुक्मिणी देवी से हुआ। उनका एक पुत्र एवं एक पुत्री है।
रघुवर दास का अपना बचपन बहुत अभावों में गुजारा, जिसकी वजह से उन्होंने जमशेदपुर की टाटा स्टील रोलिंग मिल में मजदूर के रूप में अपना सफर शुरु किया। टाटा स्‍टील के कर्मचारी से झारखंड के नये मुख्‍यमंत्री बनने तक का रघुवर दास का सियासी सफर बेहद दिलचस्‍प रहा है। रघुवर दास झारखंड के पहले गैर आदिवासी मुख्यमंत्री हैं। रघुवर दास पहली बार 1995 में भाजपा की टिकट पर जमशेदपुर (पूर्व) से चुनाव लड़े और जीत दर्ज की। चार बार विधायक रह चुके रघुवर दास 30 दिसंबर, 2009 से 29 मई, 2010 तक झारखंड के उपमुख्‍यमंत्री रह चुके हैं। एनडीए की पूर्व सरकार में इन्‍हें मंत्री पद भी दिया गया था। रघुवर दास को अमित शाह की टीम का हिस्‍सा माना जाता है।


बतौर भाजपा संगठनकर्ता वे कई प्रदेशों में भाजपा की जीत में अहम भूमिका निभा चुके हैं। रघुवर दास भाजपा के कद्दावर नेताओं में जरूर गिने जाते हैं, लेकिन उनका आरएसएस या अन्‍य सहयोगी संगठनों से कोई सीधा संबंध नहीं है। रघुवर दास 1974 के छात्र आंदोलन के समय समाजवादी छात्र संगठनों के संपर्क में रहे। उसके बाद भाजपा का दामन थामने के बाद पार्टी ने उन्‍हें कई जिम्मेदारियां दीं, जिसको उन्‍होंने बखूबी निभाया। उन्होंने 2014 के चुनावों में 'जमशेदपुर पूर्व' सीट से भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ा तथा वे भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस के उम्मीदवार आनन्द बिहारी दुबे को 70157 वोटों के अंतर से हराकर निर्वाचित हुए और झारखंड के छठवें मुख्यमंत्री नियुक्त किये हुए।
रघुवर दास 2001 में झारखंड सरकार की ओर से प्रतिनिधित्व करते हुए लंदन, इंग्लैंड और चीन की यात्राएं चुके हैं।


पद एवं कार्यकाल-
48 जमशेदपुर (पूर्वी) से 1995 से लगातार 2014 तक विधायक।
15 नवम्बर, 2000 से 17 मार्च, 2003 तक श्रम नियोजन मंत्री रहे।
मार्च, 2003 से 14 जुलाई, 2004 तक भवन निर्माण मंत्री रहे।
12 मार्च, 2005 से 14 सितंबर, 2006 तक वित्त, वाणिज्य एव नगर विकास मंत्री रहे।
30 दिसम्बर, 2009 से 30 मई, 2010 तक उपमुख्यमंत्री रहे।
28 दिसम्बर, 2014 से सम्प्रति, झारखंड के मुख्यमंत्री के रूप में कार्यरत।
साहित्य में रुचि
रघुवर दास को साहित्य में विशेष रुचि है। वह साहित्य के क्षेत्र में रामधारी सिंह दिनकर को अपना आदर्श मानते हैं।


Raghubar Das (born 3 May 1955) is the Chief minister of Jharkhand state of India. He was sworn in as the 6th chief minister of Jharkhand on 28 December 2014. He is an Indian politician and belongs to Bharatiya Janata Party. A former employee of Tata Steel, he served as the member of legislative assembly for five times, representing Jamshedpur East since 1995. He also served as the Deputy Chief Minister and the Urban Development Minister during the BJP-led government in the state. During the period of emergency (25 June 1975), was sent behind the bars.



Das belongs to Other Backward Class (OBC) Teli family. He was born on May 3, 1955 to Chavan Ram, a labourer with a steel company. He passed matriculation from Bhalubasa Harijan High School, and completed B.Sc. from Jamshedpur Cooperative College. He also studied law from the same college and acquired LLB degree. After studies, he joined Tata Steel as a labourer.



Das was involved in politics since his college days. He participated in Jayprakash Narayan-led Total Revolution movement in the state. He was arrested and imprisoned in Gaya and was again imprisoned during the Emergency imposed by Indira Gandhi. Subsequently, Das joined the Janata Party in 1977.


Later he joined Bharatiya Janata Party (BJP) as a founding member in 1980. He participated in the first National Committee meeting of BJP in Mumbai in 1980. He was appointed as the chief of unit of Sitaramdera in Jamshedpur. Later he served as the city chief secretary and the vice president of Jamshedpur. BJP secretary and then became the vice president.


He was elected as the member of Bihar Legislative Assembly in 1995 from Jamshedpur East. He again won from the same constituency for five times. He was appointed as a chief of BJP in Jharkhand in 2004. The BJP won 30 seats in Jharkhand Legislative Assembly election, 2005. He also served as the Urban Development Minister during the NDA government in 2005 under Arjun Munda as the chief minister. He also led the Indian general election, 2009 in the state. He held the office of Deputy Chief Minister of Jharkhand state from 30 December 2009 to 29 May 2010, when Shibu Soren was the chief minister.


He was also appointed as the vice president in the National Committee of BJP on August 16, 2014. He has shown assets to the tune of around Rs. 21 lakh. When BJP secured majority in Jharkhand Legislative Assembly election, 2014, he became the sixth and the first non-tribal chief minister of the state in December 2014.